परकोटा क्षेत्र को अभेद बनाने के लिए 4 अतिरिक्त R.A.C. कम्पनियां तैनात

कर्फ्यू क्षेत्र में आवागमन पर पूर्णतया प्रतिबन्ध लगाया गया

4-additional-rac-companies-stationed-in-parkota

क्वांरटाईन केन्द्रों पर भी  R.A.C. की तैनातगी।

कर्फ्यू क्षेत्र में ड्रोन से लॉक डाउन की निरंतर निगरानी जारी।

जयपुर (विसं.)। कोरोना संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित क्षेत्रों में कर्फ्यू जारी है। उल्लेखनीय है कि परकोटा क्षेत्र, भट्टा बस्ती, शास्त्री नगर, आदर्श नगर, लालकोठी, खो-नागोरियान, आदर्श नगर, विधायकपुरी एवं चित्रकूट के चिन्हित क्षेत्र में कर्फ्यू लागू किया गया है। यहां आमजन के आवागमन पर पूर्णतया प्रतिबन्ध लगाया है। शहर में 262 स्थानों पर नाकाबंदी की जा रही है।

लॉक डाउन की सख्ती से पालना हेतु परकोटा क्षेत्र में पूर्व से नियोजित पुलिस बल के अलावा 4 अतिरिक्त R.A.C. कम्पनी व 400 बॉर्डर होमगार्ड तैनात की गयी है। मेडिकल सर्वें व स्क्रीनिंग टीमों के साथ पर्याप्त पुलिस बल तैनात किया जाकर निरंतर कार्य किया जा रहा है।

क्वांरटाईन केन्द्रों पर भी  R.A.C. की तैनातगी

कोरोना वायरस संक्रमति व्यक्तियों की ट्रेवल हिस्ट्री एवं सम्पर्क में आये हुये व्यक्तियों को 12 क्वारांटाईन केन्द्रों में रखा गया है। सभी क्वारांटाईन केन्द्रों पर Social Distancing व कोविड-19 से सुरक्षा के लिए जारी प्रोटोकॉल की पालना हेतु राउण्ड द क्लॉक पुलिस बल नियोजित किया गया है। उक्त पुलिस बल क्वारंटाईन केन्द्र परिसर में ही रहेगा तथा पुलिस बल का क्वारांटाईन केन्द्रो से घर/थाना पर आना-जाना पूर्णतया निषेध रहेगा। सभी क्वारांटाईन केन्द्रों पर पुलिसकर्मियों को मास्क, दस्ताने एव सेनेटाईजर उपलब्ध करवाये गये। केन्द्रो पर आर.ए.सी. पुलिस बल भी तैनात की गयी है।

4-additional-rac-companies-stationed-in-parkota

ड्रोन कैमरों से निगरानी

कर्फ्यूग्रस्त क्षेत्रों में ड्रोन कैमरों के माध्यम से गली, मौहल्लों, सोशल डिस्टेंसिंग व लोगों की आवाजाही एवं लॉक डाउन की पूर्णतय पालना के लिए निगरानी की जा रही है। ड्रोन कैमरों का लाइव मॉनिटिरिंग अभय कमाण्ड सेन्टर द्वारा की जा रही है । ड्रोन कैमरों की रिकॉडिग के आधार पर लॉक डाउन का उल्लंघन करने वालों को चिन्हित कर कार्यवाही की जा रही है।

सोशल मीडिया पर पुलिस की पैनी नजर

जयपुर शहर में सोशल मीड़िया के माध्यम कोरोना संक्रमण की विकट परिस्थिति में अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ जयपुर पुलिस की सोशल मीडिया सैल व साईबर ब्रांच कार्यवाही करेंगी। कोरोना के संक्रमण के दौरान सोशल मीडिया पर अफवाह व दुष्प्रचार रोकने के लिए कमिश्नरेट में सोशल मीड़िया प्रकोष्ठ 24×7 कार्यरत है, जिसका वाट्स हैल्प लाईन नम्बर 7300363636 है।

जिसमें साईबर सैल, तकनीकी शाखा, अभय कमाण्ड एवं फील्ड के अधिकारी व कर्मचारियों को निरंतर कार्य रहे हैं, जो कोरोना के प्रति सोशल मीडिया पर भ्रामक अफवाह फैलाने वालों पर नजर रखे हुये है। तकनीकी शाखा द्वारा कोरोना वायरस संक्रमितों की कॉन्टेक्ट हिस्ट्री ट्रेस कर वायरस की चैन तोड़ने की कवायद की जा रही है।

सी.एस.टी. एवं सैल द्वारा सोशल मीड़िया पर भ्रामक अफवाह फैलाने वाले असामाजिक तत्वों को चिन्हित किया जाकर ट्रेस कर रहे है। कोरोना के संबंध में सोशल मीड़िया पर अफवाह फैलाने के संबंध में अब तक 18 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है।

लॉक डाउन उल्लंघन पर 675 अनाधिकृत वाहन जब्त, अब तक कुल 10,080 वाहन जब्त

जयपुर शहर में लॉक डाउन घोषणा के बाद से प्राईवेट एवं सार्वजनिक परिवहन के साधनों जैसे बस, मिनी बस, ऑटो टैक्सी एवं ई-रिक्शा आदि पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने के लिए 262 स्थानों पर पुलिस द्वारा नाकाबंदी की जा रही है तथा लॉक डाउन का उल्लंघन करते हुए पाये जाने पर जयपुर शहर में कुल 675 वाहनों को जब्त किया गया। अब तक की गई कार्यवाही में कुल 10,080 दुपहिया एवं चौपहिया वाहन जब्त किये गये है।

धारा 144 का उल्लघंन करने पर 4 व्यक्ति गिरफ्तार व अब तक कुल 233 गिरफ्तार

आमजन को जागरुक करने के बावजूद भी कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए शहर मे पांच या पांच से अधिक व्यक्तियों को एक जगह पर एकत्रित होने के प्रतिबंध के बावजूद धारा 144 सीआरपीसी का उल्लघंन करने पर आज दिनांक 14.04.2020 को पुलिस द्वारा 4 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया। जयपुर शहर लॉक डाउन व धारा 144 सी.आर.पी.सी. का उल्लघंन पर अब कुल 233 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है।

आपदा प्रबंधन एक्ट. 2005, राजस्थान एपिडेमिक डिजीजेज एक्ट 1957 के तहत अब तक 54 प्रकरण दर्ज

लॉक डाउन के दौरान Disaster Management Act 2005, राजस्थान एपिडेमिक डिजीजेज एक्ट 1957, कालाबाजारी व आवश्यक वस्तुओं की दुकानों से भिन्न दुकानें खोलने के संबंध एवं लॉक डाउन उल्लंघन करने वालों के विरूद्ध अब तक कुल 54 प्रकरण दर्ज किये गये। इस संबंध में उल्लघंन की स्थिति में निरतंर कार्यवाही जारी रहेगी।

जागरूकता संदेश व Social Distancing :

We Stay At Work For You – Stay At Home For Your Family जयपुर पुलिस द्वारा कोरोना वायरस के मध्यनजर आम लोगों को घरों में रहने के लिए जागरूकता का संदेश दिया जा रहा है। निर्भया स्क्वॉड द्वारा गश्त निगरानी के साथ-साथ कोरोना वायरस सुरक्षा के संबंध में जारी दिशा-निर्देशों को प्रचारित व प्रसारित किया जा रहा है। लॉक डाउन के दौरान कोरोना का संक्रमण रोकने के लिए अहम सामाजिक दूरी बनाने के उद्देश्य से जयपुर शहर में पुलिस द्वारा लोगां को जागरूक व प्रेरित किया जाकर Social Distancing की सुनिश्चिता की जा रही है।

‘‘शेल्टर होम’’ 

जयपुर शहर में पलायन कर अन्य जिलो व राज्यों से आ रहे दिहाडी मजदूरों के ठहरने एवं आवश्यक सामग्री उपलब्ध करवाने हेतु विभिन्न-विभिन्न थाना क्षेत्र में शेल्टर होम स्थापित किये गये है। शेल्टर होम में बाहरी राज्यों/जिलों से पलायन कर आ रहे 1628 मजदूरों को ठहराया गया हैं। जिसमें राज्य के 240 व विभिन्न राज्यों के 1388 लोगों को व्यवस्था की गयी है। शेल्टर होम पर पर्याप्त पुलिस बल तैनात किया जाकर निरतंर गश्त एवं निगरानी जारी है, जिससे लोगों का पलायन रोका जा सकें।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here